रिज्यूम क्या होता है, रिज्यूमे कितने प्रकार के होते हैं और रिज्यूम कैसे लिखते है? जाने सभी जानकारी

यदि आप नौकरी रिज्यूमे बनाने की सोच रहे है तो आपको रिज्यूम क्या होता है (Resume Kya Hota Hai), रिज्यूमे कितने प्रकार के होते हैं?, Resume Me Kya Kya Likha Jata Hai और रिज्यूम कैसे लिखते है? सभी जानकारी होना आवश्यक है।

Advertisement

इस आर्टिकल की मद्दत से gharbaithejobs.com वेबसाइट की टीम द्वारा Resume Kya Hai, Resume Matlab Kya Hota Hai, Resume Kise Kahate Hain, Simple Resume Kaise Banate Hain और रिज्यूमे फॉर्मेट डाउनलोड कहाँ से करना है। एक-एक करके सभी जानकारी दी गई है।

रिज्यूम क्या होता है (Resume Kya Hota Hai), रिज्यूमे कितने प्रकार के होते हैं और रिज्यूम कैसे लिखते है जाने सभी जानकारी

आज के समय में जब भी हम प्राइवेट नौकरी में अप्लाई करते हैं तो सबसे पहले हम से रिज्यूम मांगा जाता है। बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो एकदम नहीं होते हैं और नौकरी के लिए अप्लाई कर देते हैं लेकिन उन्हें यह नहीं पता होता है कि रिज्यूम क्या होता है?

आपको पता होगा आज के समय में किसी भी प्राइवेट नौकरी के लिए रिज्यूम सबसे पहले मांगा जाता है। रिज्यूम एक ऐसी चीज है जो हमारे बारे में जॉब देने वाले को सब कुछ बताती है।

इसलिए, हमारी टीम द्वारा आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले हैं कि रिज्यूम क्या होता है?, रिज्यूमे लेखन क्या है?, रिज्यूम कहां बनता है?, और रिज्यूम कैसे लिखते हैं।

जब आप प्राइवेट नौकरी के लिए अप्लाई करेंगे तो आपसे सबसे पहले आपका रिज्यूम मांगा जाएगा अधिकतर लोगों को रिज्यूम लिखना नहीं आता है और इस आर्टिकल पर आपको बताया जाएगा कि रिज्यूम कैसे लिखते हैं।

Bonus Point: यदि आपको ऑनलाइन लूडो गेम पैसे कमाने वाला एप्स डाउनलोड करना है तो 20+ Best Paise Kamane Wala Ludo Games 2022 – पैसे कमाने वाला लूडो गेम डाउनलोड करे और रोज रु.800 – 1500 रुपये कमाओ (Best Ludo Earning Apps)

Table of Contents

रिज्यूम क्या होता है? What Is Resume In Hindi?

रिज्यूम एक छोटा सा डॉक्यूमेंट होता है और इसके अंतर्गत एक व्यक्ति के बारे में सारी जानकारी होती है कि व्यक्ति ने कौन सी पढ़ाई कब की है और व्यक्ति के पास कौन कौन सी स्किल है व्यक्ति की डेट ऑफ बर्थ क्या है और व्यक्ति कहां रहता है और व्यक्ति ने स्कूल की पढ़ाई कहां से की है तथा व्यक्ति को काम का अनुभव कितना है।

इन सभी जानकारी को एक पेपर के अंदर भरा जाता है जिसे हम आम भाषा में रिज्यूम कहते हैं।

एक नौकरी रिज्यूमे के द्वारा ही कैंडिडेट के बारे में सारी जानकारी मिलती है। जब भी कोई व्यक्ति प्राइवेट जॉब के लिए अप्लाई करता है तो सबसे पहले उसका रिज्यूम चेक किया जाता है।

नौकरी के लिए रिज्यूम क्यों जरूरी है?

जब भी हम किसी प्राइवेट जॉब के लिए अप्लाई करते हैं तो रिज्यूम हमारे लिए सबसे जरूरी होता है। क्योंकि एक रिज्यूम के माध्यम से ही हम किसी भी कंपनी और व्यक्ति को अपने बारे में जानकारी दे सकते हैं।

जब किसी प्राइवेट नौकरी के लिए अप्लाई करते हैं तो सबसे पहले हम अपना रिज्यूम कंपनी में सबमिट करते हैं और उसके बाद हम इंटरव्यू में जाते हैं और हमारे रिज्यूम के आधार पर ही हमसे प्रश्न पूछे जाते हैं इसलिए जॉब पर अप्लाई करते समय व्यक्ति को अच्छे से अच्छा रिज्यूम देना चाहिए।

एक रिज्यूम के अंतर्गत हमारा मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी होती है जिससे कंपनी हमसे संपर्क करती है और इन्हीं सब के लिए रिज्यूम बहुत जरूरी है।

रिज्यूम कैसे लिखते है?

रिज्यूम लेखन भी एक कल्ला है, आज के समय में एक अच्छा जिस दिन लिखना बहुत जरूरी है और इस बात की भी पूरी जानकारी होनी चाहिए कि रिज्यूम को कैसे लिखते हैं।

बहुत सारी युवा ऐसे हैं जिन्हें रिज्यूम लिखना नहीं आता है। आप किसी से साइबर कैफे में जाते हैं तो आपसे एक रिज्यूम के बदले 50 से ₹60 ले ले जाते हैं जो एक स्टूडेंट के लिए काफी है।

अगर आपके पास मोबाइल फोन है तो मोबाइल पर रिज्यूम कैसे बनाएं? सिखकर आप अपने मोबाइल फोन पर बहुत आसानी से अपना रिज्यूम लिख सकते हैं।

रिज्यूम में आपको अपनी सारी जानकारी नहीं होती है। आपको नीचे स्टेप बाय स्टेप बताने वाले हैं कि रिज्यूम कैसे लिखते हैं।

#1: व्यक्तिगत जानकारी

रिज्यूम में सबसे पहले आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी देनी होती है जैसे अपना नाम, अपनी माता का नाम, अपने पिता का नाम और यहां सभी जानकारी आपको अपनी कक्षा दसवीं की मार्कशीट के अनुसार लिखना होता है क्योंकि रिज्यूम सबमिट करते समय आपको अपनी सारी मार्कशीट देनी होती है। व्यक्तिगत जानकारी में आपको अपना एड्रेस और मोबाइल नंबर भी मेंशन करना पड़ता है।

#2: शैक्षिक विवरण

व्यक्तिगत जानकारी भरने के बाद रिज्यूम में दूसरा चरण अपनी शैक्षिक योग्यता के बारे में जानकारी देना होता है। सबसे पहले आपको अपने 10 क्लास के नंबर इसके बाद आपको अपनी 12वीं क्लास के नंबर और ग्रेजुएशन के नंबर आदि भरने होते हैं। इसके बाद आपको अपने स्कूल के नाम की जानकारी देनी होती है कि आपने कौन से स्कूल से पढ़ाई की है इसके बाद आपको अपनी परसेंटेज ओर कौन से साल में पढ़ाई पूरी की है।

#3: स्किल संबंधित जानकारी

रिज्यूम लिखते समय सबसे महत्वपूर्ण होता है कि आप अपने कौशल को किस प्रकार से लिखते हैं। अगर आपके पास कोई कौशल है तो उसके बारे में आपको रिज्यूम में लिखना जरूरी होता है और आज के समय में रिज्यूम में स्किल को सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। आपको जिस चीज की भी अतिरिक्त जानकारी है आप उसे अपने रिज्यूम में भर सकते हैं।

#4: कार्य का अनुभव

रिज्यूम में यह सबसे महत्वपूर्ण होता है कि आपको कितने साल का कार्य अनुभव है। आपने पिछले साल कोई कार्य किया है तो आप उसके अनुभव वर्ष को लिख सकते हैं कि आपने इतने वर्ष कंपनी में काम किया है। वर्क एक्सपीरियंस रिज्यूम में बहुत जरूरी होता है अगर आपको जल्दी नौकरी चाहिए तो आपको अपने रिज्यूम में उसे जॉब से संबंधित वर्क एक्सपीरियंस जरूर लिखना चाहिए। आपने जिस कंपनी ने पिछले साल काम किया है आपको उस कंपनी का पूरा नाम भी रिज्यूम में लिखना बहुत जरूरी होता है।

#5: अपने बारे में अतिरिक्त जानकारी

रिज्यूम के अंतर्गत आप अपने बारे में अतिरिक्त जानकारी भी लिख सकते हैं जैसे अपने शौक के बारे में आपको जो जो नॉलेज है उसके बारे में रिज्यूम में लिख सकते हैं।

#6: अपना उद्देश्य

जब भी आप रिज्यूम लिखते हैं तो आप उसमें अपना उद्देश्य भी लिख सकते हैं कि आप किस कंपनी में इसलिए नौकरी पाना चाहते हैं क्योंकि जो जो कंपनी ने रिक्वायरमेंट मांगी है वह सभी आपके साथ हैं।

Note रिज्यूम लिखते समय आपको अपने बारे में सारी जानकारी रियल जानकारी देनी होती है यहां पर आप कोई भी बढ़ा चढ़ाकर नहीं लिख सकते हैं क्योंकि इंटरव्यू के दौरान आपसे हर टॉपिक पर प्रश्न पूछे जाएंगे और ना ही आप यहां पर अपने स्किल को बढ़ा चढ़ा कर ना लिखें। आपको जो आता है आप उसी के बारे में लिखें ताकि आप उसका इंटरव्यू में अच्छे से जवाब दे सके।

रिज्यूम के महत्व और उद्देश्य

आज के समय में रिज्यूम के महत्व और उद्देश्य बहुत सारे है क्योंकि रिज्यूम के माध्यम से ही व्यक्ति के बारे में सारी जानकारी मिलती है।

#रिज्यूम से व्यक्ति के बारे में व्यक्तिगत जानकारी मिलती है।

जब किसी कंपनी में कोई व्यक्ति अपना रिज्यूम सबमिट करता है तो उसके बाद कंपनी उसकी रिज्यूम का एनालिसिस करती है और उसे कांटेक्ट करके इंटरव्यू के लिए बुलाती है। रिज्यूम का सबसे महत्वपूर्ण उद्देश्य होता है कि व्यक्ति के बारे में जानकारी प्राप्त करना।

#रिज्यूम के माध्यम से व्यक्ति की शैक्षिक योग्यता के बारे में पता चलता है।

बहुत सारी कंपनी ऐसी होती हैं जिन्हें इंटरव्यू लेने का टाइम नहीं होता है और वह रिज्यूम के माध्यम पर व्यक्ति को नौकरी पर रखना चाहते हैं इसके लिए कंपनी वैकेंसी के लिए लोगों से अप्लाई करवाती है और इस वैकेंसी के लिए सभी व्यक्ति अपना रिज्यूम देते हैं और उनके रिज्यूमे उनकी सभी शैक्षिक योग्यता के बारे में जानकारी दी जाती है और इसके अलावा मार्कशीट की जेरॉक्स कॉपी भी रिज्यूम के साथ आती है।

#रिज्यूम के माध्यम से व्यक्ति के कौशल के बारे में पता चलता है।

जब भी कोई व्यक्ति अपना रिज्यूम सबमिट करता है तो व्यक्ति अपने रिज्यूम में अपने व्यक्तिगत स्किल के बारे में सारी जानकारी ऐड करता है और इससे कंपनी को व्यक्ति के शैक्षिक योग्यता के साथ-साथ अतिरिक्त स्किल के बारे में भी जानकारी मिलती है।

#रिज्यूम के माध्यम से ही व्यक्ति का मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी तथा एड्रेस मिलता है।

जब कोई व्यक्ति अपना रिज्यूम कंपनी को भेजता है तो रिज्यूम में व्यक्ति का मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और एड्रेस सारी जानकारी भारी होती है आज के समय में कंपनी अपने समय को बचाने के लिए त्रिशूल के माध्यम से लोगों को ईमेल भेजकर इंटरव्यू के लिए बुलाते हैं।

रिज्यूम और बायोडाटा में अंतर

बहुत सारे लोग रिज्यूम और बायोडाटा को एक ही मानते हैं लेकिन रिज्यूम और बायोडाटा बहुत अलग है और इन में काफी अंतर है।

  1. रिज्यूम में आपको अपनी व्यक्तिगत और शैक्षिक जानकारी देनी होती है जबकि बायोडाटा में आपको अपनी निजी जानकारी देनी होती है।
  2. रिज्यूम में अपनी स्किल के बारे में जानकारी देनी होती है जबकि बायोडाटा में आपको स्किल की जानकारी नहीं देनी होती है।
  3. रिज्यूम बनाने का उद्देश्य नौकरी प्राप्त करना होता है जबकि बायोडाटा का उद्देश्य केवल अपने निजी जानकारी देना होता है।

रिज्यूम कैसे बनाये मोबाइल से या कंप्यूटर से?

दोस्तों, आपकी जानकारी के लिए बता दू की हमारी टीम ने कुछ दिन पहले ही Resume Kaise Banaye, Resume Kaise Banate Hain या Simple Resume Kaise Banaye एक आर्टिकल लिख राखी है। जिसको आपने सायद पढ़े होंगे।

Apna Resume Kaise Banaye - रिज्यूम कैसे बनाएं जाते है

अगर आपने रिज्यूम कैसे बनाएं आर्टिकल को नहीं पढ़े है तो एक बार ऊपर दी गई लिंक से पढ़ सकते है।

हने यहाँ पर भी Resume क्या होता है और खुद का रिजूम कैसे बनाये कुछ जानकारी शेयर की है।

रिज्यूम बनाना आज के समय में बहुत ही आसान हो गया है अब आप अपने मोबाइल फोन से भी आसानी से रिज्यूम बना सकते हैं और अगर आपके पास कंप्यूटर या लैपटॉप है तो आप अपने कंप्यूटर और लैपटॉप के माध्यम से भी अपना रिज्यूम बना सकते हैं।

अगर आपके पास केवल मोबाइल फोन है तो आप अपने मोबाइल फोन पर रिज्यूम ऐप डाउनलोड करके अपना रिज्यूम बना सकते हैं। कंप्यूटर पर एमएस वर्ड पर जाकर रिज्यूम टेंप्लेट डाउनलोड करके बहुत आसानी से रिज्यूम बनाया जा सकता है।

कंप्यूटर और पीसी पर रिज्यूम कैसे बनाते हैं?

कंप्यूटर और पीसी में रिज्यूम बनाना बहुत ही आसान है नीचे दिए गए स्टेप के माध्यम से आप अपना रिज्यूम बना सकते हैं।

#1: कंप्यूटर पर एमएस वर्ड फाइल को ओपन करें

सबसे पहले आपको अपने कंप्यूटर पर एमएस वर्ड फाइल ओपन कर लेनी है। इसके बाद आपको अपने कंप्यूटर एमएस वर्ड फाइल पर रिज्यूम टेंप्लेट डाउनलोड कर लेनी है।

रिज्यूम टेंप्लेट डाउनलोड करने के बाद आपको टेंप्लेट फाइल को ओपन करना है इसके बाद आपको इनेबल एडिट मोड के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है इसके के बाद आपके कंप्यूटर पर रिज्यूम टेंप्लेट ओपन हो जाएगी।

#2: अपने बारे में जानकारी लिखें

रिज्यूम टेंप्लेट को ओपन करने के बाद आपको अपना नाम पता अपनी डेट ऑफ बर्थ अपने माता पिता का नाम अपना मोबाइल नंबर आदि लिख देना है।

#3: फोटो ऐड करें

अपने बारे में व्यक्तिगत जानकारी भरने के बाद आपको अपनी पासपोर्ट साइज फोटो ऐड करनी है।

#4 पिछले साल के कार्य अनुभव के बारे में लिखें

फोटो ऐड करने के बाद आपने पिछले साल जो काम किया है उसके अनुभव के बारे में लिखना है अगर आपने कोई भी कार्य नहीं किया है तो आप नो एक्सपीरियंस लिख सकते हैं।

#5: अपनी एजुकेशन जानकारी लिखें

वर्क एक्सपीरियंस लिखने के बाद आपको अपनी शैक्षिक योग्यता के बारे में सारी जानकारी ऐड करनी है और आप अपनी मार्कशीट के आधार पर ही एजुकेशन की जानकारी भरे।

#6: अपनी हॉबी के बारे में लिखें

रिज्यूमे आप अपनी हॉबी के बारे में लिख सकते हैं अगर आप नहीं लिखना चाहते हैं तो आप इस ऑप्शन को छोड़ दें।

#7: रिज्यूम को पीडीएफ फॉर्मेट में डाउनलोड करें

सारी जानकारी को बनने के बाद आपको रिज्यूम को पीडीएफ फॉर्मेट में डाउनलोड कर लेना है। आपको एमएस वर्ड ऑफिस के बाएं तरफ सबसे ऊपर फाइल का ऑप्शन दिखेगा ऑफिस फाइल के ऑप्शन पर क्लिक करके सेव के बटन पर क्लिक कर लेना है। इसके बाद आपके सामने डॉक्यूमेंट का ऑप्शन आएगा और आपको यहां पर पीडीएफ वाले ऑप्शन को चुनना है और सेव के बटन पर क्लिक कर देना है।

रिज्यूम क्या होता है और खुद का रिजूम कैसे बनाये FAQs

रिज्यूम कैसे भेजा जाता है?

वैसे तो अधिकतर कंपनियों में रिज्यूम ऑफलाइन सबमिट किया जाता है लेकिन पिछले 2 साल में रिज्यूम को ऑनलाइन ईमेल आईडी के माध्यम से भेजा जा रहा है। रिज्यूम को ईमेल आईडी से भेजना बहुत ही आसान है। आप जिस कंपनी में अपना रिज्यूम भेजना चाहते हैं आपको उस कंपनी की ईमेल पर रिज्यूम पीडीएफ फॉर्मेट में और अपना नाम और सब्जेक्ट टाइप करके ई-मेल को सबमिट कर देना है। अगर आप ऑफलाइन रिज्यूम भेज रहे हैं तो आपको अपने रिज्यूम के साथ अपने सभी डॉक्यूमेंट की फोटोस्टेट भी भेजनी होगी और ऑफलाइन रिज्यूम भेजने के लिए आपको कंपनी में खुद जाना होगा।

रिज्यूम के क्या फायदे हैं?

आज के समय में नौकरी प्राप्त करने के लिए रिज्यूम के सबसे ज्यादा फायदे हैं क्योंकि रिज्यूम के आधार पर ही हम अपने बारे में सारी जानकारी देते हैं और रिज्यूम के आधार पर ही इंटरव्यू के लिए हमें कॉल की जाती है।

Conclusion: Resume Kya Hota Hai और Resume Me Kya Kya Likha Jata Hai

रिज्यूम क्या है रिज्यूम कैसे लिखते हैं अब आपको इन सभी बातों के जवाब मिल गए होंगे। अब आप अपने घर पर बैठकर अपने मोबाइल फोन या फिर अपने कंप्यूटर से अपना रिज्यूम बना सकते हैं।

क्योंकि आजकल हर जगह जॉब में सबसे पहले रिज्यूम मांगा जाता है और रिज्यूम को लिखना बहुत आसान है। अब आपको अपना रिज्यूम बनाने के लिए किसी साइबर कैफे में जाने की आवश्यकता नहीं है।

Avinash Jha

हैलो दोस्तों! मैं Avinash Jha: Gharbaithejobs.com में आपका स्वागत है, यह Ghar Baithe Jobs और Earn Money From Home से संबंधित सभी चीजों के लिए आपका नंबर एक स्रोत है।

Leave a Comment